October 25, 2021
RTO full form

RTO की Full Form क्या है? RTO के पास क्या अधिकार होते हैं?

RTO की Full Form क्या है? RTO के पास क्या अधिकार होते हैं? : क्या आप आरटीओ (RTO Full Form) के बारे में जानकारियां हासिल करना चाहते हैं, और इसी जानकारी की तलाश में एक पेज से दूसरे पेज पर जा रहे हैं| यदि आप उनमें से हैं जो आरटीओ (What is RTO) के बारे में सभी जानकारियां प्राप्त करना चाहते हैं, तो आप बिलकुल सही जगह पर आये हैं|

अक्सर हम जब गाड़ी खरीदते हैं, या फिर लाइसेंस बनवाते हैं, तो यह नाम ‘आरटीओ’ हम ज़रूर सुनते हैं| अब यह आखिर है क्या, इसका फुल फॉर्म क्या है, और आरटीओ के पास कौन कौन से अधिकार हैं (Power of RTO)| यह सभी जानकारियां इस पोस्ट में प्रदान की गयी हैं|

यूँ तो हम सभी जानते हैं की हर एक एरिया का अपना आरटीओ ऑफिस (Roles And Responsibilities of RTO) होता है, और आज के समय में गाड़ियां भी हम सभी के पास हैं, तो यह बहुत ही आवश्यक है की आपको पता हो की आखिर आरटीओ है क्या, इसका फुल फॉर्म क्या है, और ऐसे क्या अधिकार हैं जो आरटीओ के पास हैं|

मुहावरे तथा लोकोक्तियाँ

इन सभी महत्व्पूर्ण जानकारियों के लिए इस पोस्ट को ध्यान से पढ़ें और आरटीओ के बारे में विभिन्न ज्ञान हासिल करें जैसे – फुल फॉर्म ऑफ़ आरटीओ इन हिंदी, आरटीओ क्या करता है, आरटीओ की ज़िम्मेदारियाँ, आरटीओ के अधिकार, आदि| अगर आप किसी प्रतियोगिता की भी तैयारी कर रहे हैं तो इस पोस्ट में प्रदान की गयी जानकारियां आपके बहुत काम आएँगी| इसीलिए पोस्ट को अंत तक पढ़ें, और अपने सुझाव हमें कमेंट बॉक्स के द्वारा भेजें|

RTO Full Form आरटीओ का मतलब क्या है और इसकी फुल फॉर्म क्या है?

क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय या क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण (आरटीओ / आरटीए) RTO Full Form (Regional Transport Office or Regional Transport Authority) भारत के विभिन्न राज्यों के लिए ड्राइवरों के डेटाबेस और वाहनों के डेटाबेस को बनाए रखने के लिए जिम्मेदार भारत सरकार का संगठन है।

आरटीओ द्वारा ड्राइविंग लाइसेंस जारी किया जाता है, वाहन उत्पाद शुल्क (जिसे रोड टैक्स और रोड फंड लाइसेंस के रूप में भी जाना जाता है) के संग्रह का आयोजन करता है और व्यक्तिगत पंजीकरण बेचता है। इसके साथ ही वाहन के बीमा का निरीक्षण करने और प्रदूषण परीक्षण को पास करने के लिए भी आरटीओ जिम्मेदार है।

Powers Exercised By RTO – आरटीओ द्वारा प्रयोग की जाने वाले अधिकार

आरटीओ द्वारा की जाने वाली कुछ प्रमुख भूमिकाएँ नीचे प्रदान की गयी हैं :

मोटर वाहन अधिनियम, 1988 द्वारा स्थापित मोटर वाहन नियमों को लागू करना
नए वाहनों का पंजीकरण करना
सभी पंजीकृत वाहनों के लिए एक डेटाबेस बनाए रखना और उसको समय समय पर मेन्टेन करना
वाहन मालिकों/चालकों को लाइसेंस जारी करना
वाहनों का नियमित निरीक्षण करना
वाहनों की फिटनेस सुनिश्चित करने के लिए प्रमाण पत्र जारी करना
वाहन मालिकों से मोटर वाहनों के लिए एकमुश्त रोड टैक्स वसूलना
ट्रकों, ऑटो, टैक्सियों आदि को जारी किए गए परमिट का प्रबंधन करना
मोटर वाहनों के संबंध में सरकार द्वारा जारी किए गए किसी भी नए नियम को लागू करना
वाहनों के लिए उत्सर्जन की जाँच और प्रदूषण प्रमाण पत्र जारी करना

Documents To Submit While Registering A Vehicle At RTO आरटीओ में वाहन का पंजीकरण करते समय जमा करने के लिए दस्तावेज

जब आप एक नया वाहन खरीदते हैं, तो उसे मोटर वाहन अधिनियम 1988 के अनुसार आरटीओ डेटाबेस में पंजीकृत होना चाहिए, और इसके लिए आपको नमन दस्तावेज जमा करने होते हैं :

वाहन के पंजीकरण के लिए फॉर्म 20 आवेदन पत्र
पासपोर्ट साइज फोटो
निवास का प्रमाण – आधार, परिवार कार्ड (राशन कार्ड), किराये का समझौता, राष्ट्रीयकृत बैंक से खाता विवरण, उपयोगिता बिल, मतदाता पहचान पत्र, आदि
वाहन डीलर द्वारा जारी फॉर्म 21 (बिक्री प्रमाण पत्र)
प्रदूषण नियंत्रण में (पीयूसी) प्रमाण पत्र
बिक्री कर निकासी प्रमाण पत्र (यदि वाहन एक राज्य में खरीदा गया है और दूसरे में पंजीकृत है)
पहचान प्रमाण – पैन, वोटर आईडी, आधार, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, आदि
ऋण दृष्टिबंधक के विवरण के साथ फॉर्म 34 (यदि आवश्यक हो)
डीलर द्वारा जारी किया गया मूल बिक्री चालान
आरटीओ से अनापत्ति प्रमाण पत्र (यदि वाहन एक राज्य में खरीदा गया है और दूसरे में पंजीकृत है)
डीलर से प्राप्त बीमा प्रमाण पत्र
अस्थायी पंजीकरण संख्या

क्या आपका दिमाग तेज है? इन प्रश्नों को हल करके दिखाइएतर्कशक्ति के प्रश्न

Process Of Getting Duplicate Registration Certificate डुप्लीकेट पंजीकरण प्रमाणपत्र कैसे प्राप्त करें

अगर आपका पंजीकरण प्रमाणपत्र खो गया है, तो आप डुप्लीकेट पंजीकरण प्रमाणपत्र प्राप्त कर सकते हैं, उसके लिए आपको निम्न काम करने होंगे:

यदि आपने पंजीकरण प्रमाण पत्र खो दिया है तो पुलिस में शिकायत दर्ज करें
दायर शिकायत की एक प्रति के साथ आरटीओ से संपर्क करें
पुलिस शिकायत प्रति के साथ पंजीकरण की डुप्लीकेट कॉपी का अनुरोध करते हुए फाइल फॉर्म 26
एक बार आवश्यक दस्तावेज दाखिल होने के बाद, आरटीओ दस्तावेजों का सत्यापन करेगा और डुप्लीकेट प्रमाण पत्र जारी करेगा

हम उम्मीद करते हैं की ऊपर प्रदान की गयी जानकारियां आप सभी के लिए लाभकारी साबित होंगी| किसी भी प्रकार के प्रश्न के लिए आप हमें कमेंट बॉक्स के द्वारा सूचित कर सकते हैं|

RTO से सम्बंधित प्रश्न

1. क्या हम वाहन पंजीकरण के लिए ऑनलाइन दस्तावेज जमा कर सकते हैं?
उत्तर: हाँ, आप ऑनलाइन दस्तावेज जमा कर सकते हैं| इसके लिए आपको आरटीओ की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा|
2. वाहन खरीदने के कितने समय के भीतर पंजीकरण हो जाना चाहिए?
उत्तर: आपको सात दिन के भीतर अपनी नई गाडी का पंजीकरण कराना चाहिए|
3. पंजीकरण प्रमाण पत्र कितने सालों के लिए वैध होता है?
उत्तर: यह प्रमाणपत्र पंद्रह सालों के लिए वैध होता है|
4. हमें अपने वाहन के पंजीकरण प्रमाणपत्र का कितने समय में नवीकरण करा लेना चाहिए?
उत्तर: आपको इसका हर पांच साल में नवीकरण कराना होता है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *