December 10, 2022
anek shabdon ke liye ek shabd

अनेक शब्दों के लिए एक शब्द, Anek Shabdon ke Liye ek Shabd List & Pdf

अनेक शब्दों के लिए एक शब्द (anek shabdon ke liye ek shabd) list and pdf, जैसा की इस लेख का शीर्षक है “अनेक शब्दों के लिए एक शब्द”, जिसका मतलब है की 2 या 2 से अधिक शब्दों के समूह के लिए प्रयुक्त किये जाने वाला एक शब्द।

ऐसा कहा गया है – ‘कम-से-कम‘ शब्दों में अधिकाधिक भाव या विचार अभिव्यक्त करना अच्छे लेखक अथवा वक्ता का गुण है। इसके लिए ऐसे शब्दों का ज्ञान आवश्यक है जो विभिन्न और अभिव्यक्ति प्रभावशाली होती है।

अनेक शब्दों के लिए एक शब्द (Anek Shabdon ke Liye ek Shabd)

एक उदाहरण द्वारा इस बात को और स्पष्टतापूर्वक समझा जा सकता है –

’यह बात सहन न करने योग्य है’ की जगह पर ‘यह बात असह्य है‘ ज्यादा गठा हुआ और प्रभावशाली लगता है। इस प्रकार के शब्दों की रचना उपसर्गप्रत्यय एवं समास की सहायता से की जाती है। हम पहले ही चर्चा कर चुके हैं कि उपसर्ग-प्रत्यय एवं समास की सहायता से नये शब्द बनाए जाते हैं। नीचे कुछ ऐसे ही शब्द दिए जा रहे हैं जो किसी लंबी अभिव्यक्ति के लिए प्रयुक्त होते हैं।

संपूर्ण हिंदी व्याकरण पढ़िए यहाँ और सभी टॉपिक्स के ऑनलाइन टेस्ट भी फ्री में लीजिए – हिंदी व्याकरण

Anek Shabdon ke Liye ek Shabd List & pdf

अनेक शब्द एक शब्द
जो क्षमा न किया जा सके अक्षम्य
जहाँ पहुँचा न जा सके अगम्य
जिसे सबसे पहले गिनना उचित हो अग्रगण्य
जिसका जन्म पहले हुआ हो अग्रज
जिसका जन्म बाद/पीछे हुआ हो अनुज
जिसकी उपमा न हो अनुपम
जिसका मूल्य न हो अमूल्य
जो दूर की न देखे/सोचे अदूरदर्शी
जिसका पार न हो अपार
जो दिखाई न दे अदृश्य
जिसके समान अन्य न हो अनन्य
जिसके समान दूसरा न हो अद्वितीय
ऐसे स्थान पर निवास जहाँ कोई पा सके अज्ञातवास
जो न जानता हो अज्ञ
जो बूढ़ा (पुराना) न हो अजर
जो जातियों के बीच में हो अंतर्जातीय
आशा से कहीं बढ़कर आशातीत
अधः (नीचे) लिखा हुआ अधोलिखित
कम अक्लवाला अल्पबुद्धि
जो क्षय न हो सके अक्षय
श्रद्धा से जल पीना आचमन
जो उचित समय पर न हो असामयिक
जो सोचा भी न गया हो अतर्कित
जिसका उल्लंघन करना न हो अनुल्लंघनीय
जो लौकिक या सांसारिक प्रतीत न हो अलौकिक
जो सँवारा या साफ न किया गया हो अपरिमार्जित
आचार्य की पत्नी आचार्यांनी
जो अर्थशास्त्र का विद्वान हो अर्थशास्त्री
अनुवाद किया हुआ अनुदित
अर्थ या धन से संबंधित आर्थिक
जिसकी तुलना न हो अतुलनीय
जिसका आदि न हो अनादि
जिसका अंत न हो अनंत
जो परीक्षा में पास न हो अनुतीर्ण
जो परीक्षा में पास हो उत्तीर्ण
जिसपर मुकदमा हो अभियुक्त
जिसका अपराध सिद्ध हो अपराधी
जिस पर विश्वास न हो अविश्वसनीय
जो साध्य न हो असाध्य
स्वयं अपने को मर डालना आत्महत्या
अपनी ही हत्या करनेवाला आत्मघाती
जो दुसरो का बुरा करे अपकारी
जो पढ़ा-लिखा न हो अनपढ़
जो आयुर्वेद से संबंध रखे आयुर्वेदिक
अंडे से पैदा लेनेवाला अंडज
दूसरे के मन की बात जाननेवाला अन्तर्यामी
दूसरे के अंदर की गहराई ताड़नेवाला अन्तर्दर्शी
अनेक राष्ट्रों में आपस में होनेवाली बात अंतराष्ट्रीय
जिसका वर्णन न हो सके अवर्णनीय
जिसे टाला न जा सके अनिवार्य
जिसे  काटा न जा सके अकाटय
नकल करने योग्य अनुकरणीय
बिना विचार किये विश्वास करना अंधविश्वास
साधारण नियम के विरुद्ध बात अपवाद
जो मनुष्य के लिए उचित न हो अमानुषिक
जो होने से पूर्व किसी बात का अनुमान करे अनागतविधाता
जिसकी संख्या सीमित न हो असंख्य
इन्द्र की पुरी अमरावती
कुबेर की नगरी अलकापुरी
दोपहर के बाद का समय अपराह्न
पर्वत के ऊपर  समभूमि अधित्यका
जो जाँच या  परीक्षा बहुत कठिन हो अग्नि-परीक्षा
जिसे ईश्वर या वेद में विश्वास न हो नास्तिक
जिसे ईश्वर या वेद में विश्वास हो आस्तिक
जिसका नाथ (सहारा) न हो अनाथ/यतीम
जो थोड़ा जानता हो अल्पज्ञ
जो ऋण ले अधमर्ण
जिसे  भय न हो निर्भय/अभय
जो कभी मरे नहीं अमर
जिसका शत्रु पैदा नहीं लिया अजातशत्रु
जिस पुस्तक में आठ अध्याय हो अष्टाध्यायी
जो नई चीज  निकाले या खोज करे आविष्कार
जो साधा न जा सके असाध्य
किसी छोटे से प्रसन्न हो उसका उपकार करना अनुग्रह
किसी के दुःख से दुखी होकर उसपर दया करना अनुकम्पा
वह हथियार  फेंककर चलाया जाय अस्त्र
मोहजनित प्रेम आसक्ति
किसी श्रेष्ठ का मान या स्वागत अभिनन्दन
किसी विशेष वस्तु की हार्दिक इच्छा अभिलापा
जिसके आने की तिथि ज्ञात न हो अतिथि
जिसके पार न देखा जा सके अपारदर्शी
जो स्त्री सूर्य भी न देख सके असूर्यमपश्या
जो नहीं हो सकता असम्भव
बढ़ा-चढ़ाकर कहना अतिशयोक्ति
जो अल्प बोलनेवाला है अल्पभाषा
जो स्त्री अभिनय करे अभिनेत्री
जो पुरुष अभिनय करे अभिनेता
बिना वेतन के अवैतनिक
आलोचना करनेवाला आलोचक
सिर से लेकर पैर तक आपादमस्तक
बालक से लेकर वृद्ध तक आबालवृद्ध
आलोचना के योग्य आलोच्य
जिसे जीता न जा सके अजेय
न खाने योग्य अखाद्य
आदि से अंत तक आघोपान्त
बिना प्रयास के अनायास
जो भेदा या तोड़ा न जा सके अभेद्य
जिसकी आशा न की गयी हो अप्रत्याशित
जिसे मापा न जा सके अपरिमेय
जो प्रमाण से सिद्ध अप्रमेय
आत्मा या अपने आप पर विश्वास आत्मविश्वास
दक्षिण दिशा अवाची
उत्तर दिशा उदीची
पूरब दिशा प्राची
पश्चिम दिशा प्रतीची
जो व्याकरण द्वारा सिद्ध न हो अपभ्र्श
झूठा मुकदमा अभ्याख्यान
दो या तीन बार कहना आम्रेडिट
माँ-बहन संबंधी गाली आक्षारणा
बार-बार बोलना अनुलाप
न कहने योग्य वचन अवाच्य
नाटक में बड़ी बहन अन्तिका
दूसरे के गुणों में दोष निकालना असूया
मानसिक भाव छिपाना अवहित्था
जबरन नरक में धकेलना  बेगार आजू
तट का जो भाग जल के भीतर हो अन्तरीप
वह गणित जिसमे संख्याओं का प्रयोग हो अंकगणित
दागकर छोड़ा गया साँड़ अंकिल
आलस्य में जँभाई लेते हुए देह टूटना अँगड़ाई
अंग पोछने का वस्त्र अंगोछा
पीसे हुए चावल की मिठाई अंदरसा
जिसके पास कुछ भी ना नहीं हो अंकिचन
जो पासे के खेल  धूर्त हो अक्षधूर्त
निंदा न किया हुआ अग्रहित
सेना के आगे लड़ने वाला योद्धा अग्रयोधा
जिसकी चिकित्सा न हो सके अचिकित्स्य
बिना चिंता किया हुआ अचिंतित
प्रसूता जानेवाला भोजन अछवानी
जिसका जन्म न हो अज/अजन्मा
घर के सबसे ऊपर के खंड की कोठरी अटारी
न टूटने वाला अटूट
ठहाका लगाकर हँसना अट्ठाहास
अति सूक्ष्म परिमाण अणिमा
व्यर्थ प्रलाप करना अतिकथा
मर्यादा  उल्लंघन करके किया हुआ अतिकृत
जिसका ज्ञान इन्द्रियों के द्वारा न हो अतिन्द्रिय
जो ऊँचा न हो अतुंग
शीघ्रता का अभाव अत्वरा
आज के दिन से पूर्व का काल अनघतनभूत
होठों पर चढ़ी पान की लाली अधरज
वह व्यक्ति जिसके एक के ऊपर दूसरा दाँत हो अधिकदंती
रथ पर चढ़ा हुआ योद्धा अधिरथ
अध्ययन किया हुआ अधीत
उतरती युवावस्था का अधेर
हित न चाहनेवाला अनहितू
अनुभव प्राप्त अनुभवी
प्रेम उत्पन्न करनेवाला अनुरंजक
जल से परिपूर्ण अनूप
जिसके जल का प्रवाह गुप्त हो अन्तस्सलिल
दूध पिलानेवाली धाय अन्ना
देह का दाहिना भाग अपसव्य
जिसकी आकृति का कोई और न मिले अप्रतिरूप
स्वर्ग की वेश्या अप्सरा
शाप दिया हुआ अभिशप्त
इंद्रपुरी की वेश्या अमरगना
पानी भरनेवाला अम्बुवाह
लोहे का काम करनेवाला लोहार
असंबन्ध विषय का अविवक्षित
आठ पदवाला अष्टपदी
धूप से बचने का छाता आतपत्र
बंधक रखा हुआ आधीकृत
विपत्ति के समय विधान करने का धर्म आपदुधर्म
तुलना द्वारा प्राप्त आपेक्षिक
दर्पण जड़ी अँगूठी, जिसे स्त्रियाँ अँगूठे में पहनती हैं आरसी
भारतवर्ष का उत्तरी भाग आर्यावर्त
घर के सामने का मंच आलिंद
मंत्र-द्वारा देवता को बुलाना आवाहन
उत्कंठा सहित मन का वेग आवेग
वृक्षों को जल से थोड़ा सींचना आसेक
अनुमान किया हुआ अनुमानित
जिसका दूसरा उपाय न हो अनन्योपाय
जिसका अनुभव किया गया हो अनुभूत
जो जन्म लेते ही मर जाये आदण्डपात
जो शोक करने योग्य न हो अशोच्य
महल के भीतर का भाग अंतःपुर
अनिश्चित जीविका आकाशवृत्ति
जिस पेड़ के पत्ते झड़ गए हों अपर्ण
उच्च वर्ण के पुरुष के साथ निम्न वर्ण की स्त्री का विवाह अनुलोम विवाह
जिसका पति आया हुआ है आगतपतिका
जिसका पति आनेवाला है आगमिस्यतपतिका
बच्चे को पहले-पहल अन्न खिलाना अन्नप्राशन
आम का बगीचा अमराई
राजा का बगीचा आक्रीड
अनुसंधान की इच्छा अनुसंधित्सा
किसी शरीर रक्षा करनेवाला अंगरक्षक
किसी को भय से बचाने का वचन देना अभयदान
चोट खाया हुआ आहत
जिसे पान करने से अमर हो जाये अमृत
जिसका अनुभव किया जा सके अनुभवजन्य
जो अपमानित हो चूका हो अनादृत
अभिनय करने योग्य अभिनेय
उपासना करने योग्य उपास्य
ऐसी भूमि जो उपजाऊ नहीं हो ऊसर
जो इन्द्रियों के बाहर हो इन्द्रियातीत
जो उड़ा जा रहा हो उड्डीयमान
नई योजना का सर्वप्रथम काम में लाने का उत्सव उद्घाटन
भूमि को भेदकर निकलनेवाला उदभिद
तिनकों से बना घर उटज
जो छाती की बल चले उरग
ऊपर गया हुआ उर्ध्वगत
लाली मिल हुआ काले रंग का ऊदा
छाती का घाव उरक्षत
अन्य देश का पुरुष उपही
आकाश से तारे का टूटना उपप्लव
गरमी से उत्पन्न उष्मज
स्वप्न में बकझक करना उचावा
उभरा या लाँघा हुआ उत्क्रांत
दो दिशाओं के बीच उपदिशा
अँगुलियों में होनेवाला फोड़ा इकोता
त्वचा के ऊपर निकला हुआ मस्सा इल्ला
गर्भिणी स्त्री की लालसा ऊकोना
जो बहुत कुछ जानता हो बहुज्ञ
नीचे लिखा हुआ निम्नलिखित
ऊपर कहा गया उपर्युक्त
बुरी बुद्धिवाला कुबुद्धि
चारों और चक्कर काटना परिक्रमा
जिसका कोई आसरा न हो निराश्रित
जिसमे विष न हो निर्विष
जिसका धव (पति) मर गया हो विधवा
जिसका पति जीवित हो सधवा
जो बर्तन बेचने का काम करें कसेरा
जिसे कर्तव्य न सूझ रहा हो कि-कर्त्तव्यविमूढ़
जो तीनों कालों की बात जानता हो त्रिकालज्ञ
पन्द्रह दिनों का समूह पक्ष
पढ़नेवाला पाठक
बाँचनेवाला वाचक
सुननेवाला श्रोता
बोलनेवाला वक्ता
लिखनेवाला लेखक
लेख की नकल प्रतिलिपि
जो सब देशों के सामने हो प्रत्यक्ष
जानने की इच्छा जिज्ञासा
जानने  इच्छुक / इच्छावाला जिज्ञासु
जिसे प्यास लगी हो पिपासु/प्यासा
जो मीठा बोले मधुरभाषा
जो देर तक स्मरण के योग्य हो चिरस्मरणीय
समाज से संबंध रखनेवाला सामाजिक
केवल फल खाकर रहनेवाला फलाहारी
जो शाक-सब्जी खाए शाकाहारी
शासक हेतु नियमों का समूह सविधान
जो चाँदी-जैसा सफेद हो परुहला
सोने-जैसे रंगवाला सुनहला
दस वर्षों का समूह दशक
सौ वर्षों का समूह शताब्दी
जिसके होश ठिकाने न हो मदहोश
लेने की इच्छा लिप्सा
जो बहुत बातें बनाए बातूनी
जो नाप-तौलकर खर्च करे मितव्ययी
व्याकरण जाननेवाला वैयाकरण
जिसे तनिक भी लज्जा न हो निर्लज्ज
शिव का उपासक शैव
विष्णु का उपासक वैष्णव
शक्ति का उपासक शक्ति
जो तत्व सदा रहे शाश्वत
जो जिन के मत को माने बौद्ध
विनोबा के मत को माननेवाला सर्वोदयी
जो बात साफ-साफ करे स्पष्टवादी
इतिहास से संबंधित ऐतिहासिक
जो कठिनाई से साधा जाय दुःसाध्य
जो सुगमता साधा जाय सुसाध्य
जो आसानी से मिल जाये सुलभ
जो कठिनाई दुर्लभ
जिसका जवाब न हो लाजवाब
जिसका इलाज न हो लाइलाज
जो हर काम देर से करे दीर्घसूत्री
जो किसी की जिम्मेदारी ले जवाबदेह
हाथ की लिखी पुस्तक या मसौदा पांडुलिपि
पूर्वी देशों से संबंध रखनेवाला पूर्वीय
जो तरह – तरह के रूप बना सके बहुरूपिया
कम बोलनेवाला मितभाषी
जो किसी की और से बोले प्रवक्ता
दो बातों या कामों में से एक वैकल्पित
गिरने से कुछ ही बची इमारत ध्वंसावशेष
वीर पुत्रों को जन्म देनेवाली वीरप्रसूता
वीरों द्वारा भोगी जानेवाली वीरभोग्या
जिसके गर्भ में रत्न हो रत्नगर्भा
जो सबको समान रूप से देखे समदर्शी
जो सब जगह व्याप्त हो सर्वव्यापक
जो रोग एक से दूसरे को हो संक्रामक
जो दो बार जन्म ले द्विज
पिता से प्राप्त सम्पत्ति आदि पैतृक
जो अपनी इच्छा से सेवा करे स्वयंसेवक
गोद ली सतान दन्तक
भूगोल से संबंध रखनेवाला भौगोलिक
पृथ्वी से संबंध रखनेवाला पार्थिव
साधारण लोगो में कही जानेवाली बात किंवदंती
किसी कलाकार की कलापूर्ण रचना कलाकृति
लोगों में परम्परा से चली आई कथा दंतकथा
जो पुराणों से संबंध रखता हो वैदिक
जिसका जन्म पसीने से हो स्वेदज
जेर से उत्पन्न होनेवाला जरायुज
विमान चलानेवाला वैमानिक
सबसे साथ मिलकर गाया जानेवाला गान सहगान
जो सब कालों में एक समान हो सर्वकालिक
जो सम्पूर्ण लोक में हो सार्वलैकिक
जिसका उदाहरण दिया गया हो उदाहत
जिसका उद्धरण दिया गया हो उधृत
जिस स्त्री के सन्तान न होती हो बाँझ
शिव के गण प्रमथ
शिव के धनुष पिनाक
जहाँ शिव का निवास है कैलाश
इन्द्र का सारथि लातलि
इन्द्र का घोड़ा उच्चैःश्रवा
इन्द्र का पुत्र जयन्त
इन्द्र का बाग नन्दन
इन्द्र का हाथी ऐरावत
ईश्वर या स्वर्ग का खजाँची कुबेर
मध्य रात्रि का समय निशीथ
लताओ से आच्छादित रमणीय स्थान निकुंज
सीपी, बाँसी, सुकरी, करी, धरी, और नरसल से बनी माला वैजयंतीमाला
मरने के करीब मुमूर्ष/मरणासन्न
पर्वत के नीचे की समभूमि (तराई) उपत्यका
जहाँ नाटक का अभिनय किया जाय जंगमंच
जिस सेना में हाथी, घोड़े, रथी और पैदल हों चतुरंगिणी
जो काम कठिन हो दुष्कर
दिन में होनेवाला दैनिक
किए गए उपकार को माननेवाला कृतज्ञ
किए गए उपकार को न माननेवाला कृतघ्न
जिसका रूप अच्छा हो सुरूप
अच्छा बोलनेवाला वाग्मी / सुवक्ता
बुरे मार्ग पर चलनेवाला कुमार्गगामी
जिसका आचरण अच्छा हो सदाचारी
जिसका आचरण अच्छा नहीं हो दुराचारी
जिसमे दया हो दयालु
जिसमे दया नहीं हो निर्दय
जो प्रशंसा के योग्य हो प्रंशसनीय
जिसमें कपट न हो निष्कपट
जिसमे कोई विकार न आता हो निर्विकार
समान समय में होनेवाला समसामयिक
जो आकाश में विचरण करे खेचर
वह पहाड़ जिससे आग निकले ज्वालामुखी
जो मोह नहीं करता है निर्मोही
जो प्रतिदिन नहाता हो नित्यस्नायी
मोक्ष या मुक्ति की इच्छा रखनेवाला मुमुक्षु
जो राजा/राज्य से द्रोह करे राजद्रोही
किसी का पक्ष लेनेवाला पक्षपाती
इतिहास को जाननेवाला इतिहासज्ञ
पाप करने के अनन्तर स्वयं दंड पाना प्रायश्चित
जिस शब्द के दो अर्थ हों श्लिष्ट
अपना नाम स्वयं लिखना हस्ताक्षर
जो सबको प्रिय हो सर्वप्रिय
जो हमेशा बदलता रहे परिवर्तनशील
अपना मतलब साधनेवाला स्वार्थी
कुसंगति के कारण चरित्र पर दोष कलंक
सतो गुण का सात्विक
रजो गुण का राजसिक
तमो गुण का तामसिक

Anek shabdon ke liye ek shabd, anek shabdon ke liye ek shabd in hindi, anek shabdon ke liye ek shabd likhiye, anek shabdon ke liye ek shabd for class 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12, anek shabdon ke liye ek shabd list, anek shabdon ke liye ek shabd ki paribhasha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *