October 2, 2022

पदबंध की परिभाषा, पदबंध के भेद, प्रकार और MCQ प्रश्न – Class 8 to 10

पदबंध की परिभाषा, पदबंध के भेद, प्रकार और MCQ प्रश्न – Class 8 to 10 : क्या आप पदबंध से सम्बंधित जानकारियां प्राप्त करना चाहते हैं, तो पोस्ट को अंत तक पढ़ें और इस विषय में खुद को एकदम परफेक्ट बनाएं. आपकी हिंदी परीक्षा के लिए यह टॉपिक बहुत ही ज़्यादा महत्वपूर्ण है, इसीलिए इस पोस्ट को ध्यान से पढ़ें, और चाहे आप स्कूल के विद्यार्थी हों, या फिर आप कॉलेज से हिंदी विषय में ही उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे हों, ये जानकारियां आपको बहुत ही उपयोग में आने वाली हैं. इसीलिए इस पोस्ट को ध्यान से पढ़ें, और पदबंध क्या होता है?, पदबंध के कितने प्रकार होते हैं, सभी प्रकारों के उदाहरण, आदि जैसी सभी जानकारियां प्राप्त करें. पोस्ट में ही नीचे आपको अभ्यास प्रश्न भी उपलब्ध कराये गए हैं, उनको भी अच्छे से समझें.

पदबंध की परिभाषा, पदबंध के भेद, प्रकार और MCQ प्रश्न – Class 8 to 10

पदबंध की परिभाषा क्या है?

“जब दो या अधिक पद मिलकर एक ही शाब्दिक इकाई (संज्ञा, विशेषण, क्रिया, अव्यय) का मान करते हैं, तो ऐसे पद-समूह को ’पदबंध‘ कहते हैं’’
पदबंध के लिए दो शर्तो का होना आवश्यक है। पहली यह कि पद अकेला न होकर एकाधिक हो और दूसरी, पदों का समूह वाक्य में एक भाषिक इकाई का कार्य करता हो यानी हर एक पद उस इकाई को ही पुष्ट करता हो।

हमेशा सीखने का मौका
अगर आप हमेशा कुछ चाहते हैं तो ये यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कर दो।
सीखने के साथ जीतने का भी मौका मिलेगा।
यहाँ सब्सक्राइब करें

पदबंध की परिभाषा

नीचे लिखे वाक्यों को देखें:

(a) लाहौर से पेशावर जानेवाली बस खराब हो गई है।
(b) हमारे बिहार राज्य की राजधानी पटने में इस समय 50 लाख लोग रहते हैं। उपर्युक्त वाक्यों मे हम देखते हैं:
बस कौन-सी ?
जो लाहौर से पेशावर जाती है।
पटना क्या है।
राजधानी।
कहां की ?
हमारे बिहार राज्य की।

GK, GS, Maths, Reasoning Quiz के लिए टेलीग्राम चैनल ज्वाइन करें - Join

पदबंध की परिभाषा, भेद, और उदाहरण 

‘लाहौर से पेशावर जानेवाली’ पद-समूह ‘बस’ के लिए और ‘हमारे बिहार राज्य की राजधानी’ पद-समूह ‘पटने’ के लिए प्रयुक्त होकर पदबंधों का निर्माण कर रहे हैं।
पदबंधों की पहचान के लिए यदि मान लिया जाए कि उक्त वाक्यों में शुरू से ‘बस’ और ‘पटना’ तक के पद रेखांकित हैं। अंतिम पद संज्ञाएँ हैं, इसलिए उस रेखांकित पदबंध को संज्ञा नाम पर ही उस पदबंध का नाम रखा जाता है।

नीचे लिखे अन्य उदाहरणों को देखें:

1. स्वतंत्र भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पं. जवाहरलाल नेहरू ने ’डिस्कवरी आॅफ डंडिया‘ लिखा। (संज्ञा पदबंध)
2. महात्मा बुद्ध के समय से चली आई ध्यान पद्धति पर दलाईलामा ने व्याख्यान दिया। (संज्ञा पदबंध)
3. बुगले की तर लंबी बड़ी अजीब लगती है। (विशेषण पदबंध)
4. विस्कोमान भवन क आठवीं मंजिल पर नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी का कार्यकाल है।
(क्रियाविशेषण या अव्यय पदबंध)
5. जो छात्र दिन-रात मेहनत करते हैं वे ही परीक्षा में अच्छा अंक लाते है। (सर्वनाम पदबंध)
6. वर्षाकाल में रोपा गया गुलमोहर का पौधा तीव्र वेग से फलता-फुलता जा रहा था (क्रिया पदबंध)

पदबंध की परिभाषा, भेद, और उदाहरण 

पदबंध के मुख्यतः पाँच प्रकार होते हैं-

1. संज्ञा पदबंध: संज्ञा पद के स्थान पर प्रयुक्त होनेवाला पद-समूह को ’संज्ञा पदबंध‘ कहते हैं। इसमें प्रयुक्त होनेवाले सभी पद किसी संज्ञा को ही स्पष्ट करते हैं। ये विभिन्न कारक रूपों में आते हैं। जैसे-
1. रात में पहरा देनेवाला पहरेदार कल गोली का शिकार हुआ।
2. मैंने एक दहशत पैदा कर देनेवाली विदेशी फिल्म देखी।
3. प्रदूषण पैदा करनेवाले वाहनों को बंद किया जाना चाहिए।
4. पिताजी अपने सभी बच्चों के लिए मिठाई लाये।
5. मेरे प्यारे होनेहार बच्चो ! समय का ध्यान रखो।
6. उसके जीवन भर की कमाई पल में नष्ट हो गई।
7. अयोध्या के राजा दशरथ के पुत्र राम ने रावण को मारा।

2. सर्वनाम पदबंध: पदों का वैसा समूह, जो किसी सर्वनाम के बारे में बताए, ‘सर्वनाम पदबंध’ कहलाता है। जैसे-
1. शेर की तरह दहाड़नेवाले आप भीगी बिल्ली कैसे बन गए ?
2. असाधारण प्रतिभा के धनी तुम अपना समय क्यों नष्ट कर रहे हो ?
3. जो छात्र दिन-रात मेहनत करता है वह कभी असफल नहीं होता है।
4. जो वीर प्राण हथेली पर लेकर देश-सेवा में जाते हैं, वे अवश्य विजयी होते हैं।
5. कल-कल, छल-छल करनेवाली वह नदी अब नहीं रही।

3. विशेषण पदबंध: वह पद-समूह, जो विशेषण की तरह काम करे या किसी संज्ञा अथवा सर्वनाम की विशेषता बताने के लिए प्रयुक्त हो, ‘विशेषण पदबंध’ कहलाता है। जैसे-
1. शरद् की सुखद व मनहोहक चाँदनी से आच्छादित रात का सौंदर्य देखते ही बनती है।
2. विश्वकप में सर्वाधिक रन का कीर्तिमान बनानेवाला पाकिस्तान इस बार फिर विजयी रहा।
3. आप मेरे लिए एक सचित्र-सुन्दर और सामाजिक उपन्यास लेते आइएगा।
4. गुलाब के फूल-जैसा शिशु का मुख किसे मुग्ध नहीं करता ?
5. बहुत बड़े पंखे-जैसे मोर के पंख नाच के समय खुलकर फैल जाते हैं।
6. ताजे शोणित से सने वस्त्र की भाँति पूरब की लालिमा खरगोश की आँख के समान दिख रही थी।
7. न जाने कितने लोग इस बार भी बाढ़ के पेट में समा गए।
8. दो गिलास भर पानी दो घंटों के लिए काफी है।

4. क्रिया पदबंध: जहाँ एक से अधिक पद क्रिया का काम करते हैं, वहाँ वे क्रियापदबंध’ कहलाते हैं। जैसे-
1. आशु रोते-रोते सो गई।
2. मेघा ने कागज फाड़कर टुकड़े-टुकड़े कर दिए।
3. शालू रूक-रूककर धीरे-धीरे चल रही थी।
4. रचना भारती सुबह ही नहा-धोकर तैयार हो गई थी।

5. क्रियाविशेषण पदबंध या अव्यय पदबंध: वाक्य में अव्यय को स्पष्ट करनेवाले पद-समूह ही ‘क्रिया विशेषण’ या ‘अव्यय पदबंध’ कहलाते हैं। जैसे-
1. वह सुबह से शाम तलक पढ़ता रहा।
2. उसी छोटी-सी पहाड़ी के निकट छलछलाता झरना है।
3. पिछले कई वर्षों की अपेक्षा इस वर्ष भी बी. पी. एस. की दसवीं कक्षा का परिणाम अच्छा ही रहा।
4. दारोगा गुस्से में बड़े जोरों से दाँते पीसता हुआ जा रहा था।
5. भली-भाँति परीक्षण कर लेने के बाद ही उसने हमारा काम किया।

पदबंध की परिभाषा, भेद, और उदाहरण 

निर्देश: सही विकल्पों को चुनकर लिखें-

Ques 1: पदबंध के कुल कितने प्रकार हैं ?

  • दो
  • तीन
  • चार
  • पाँच

पाँच

Ques 2: पदबंध वाक्यों में काम करता है-

  • एक भाषिक इकाई का
  • अनेक भाषिक इकाइयों का
  • उक्त दोनों
  • इनमें से कोई नहीं

एक भाषिक इकाई का

Ques 3: पदबंध के अंतिम पद के आधार पर-

  • नामकरण होता है
  • भाव-ग्रहण होता है
  • अर्थ-ग्रहण होता है
  • कारक की पहचान होती है

नामकरण होता है

Ques 4: पदों का वैसा समूह, जो किसी सर्वनाम की ओर इंगित करे-

  • संज्ञा पदबंध होता है
  • सर्वनाम पदबंध होता है
  • पदबंध होता है
  • वाक्यखंड होता है न कि पदबंध

सर्वनाम पदबंध होता है

Ques 5: पदों का वैसा समूह, जो किसी सार्वनामिक विशेषण की ओर इशारा करे-

  • संज्ञा पदबंध होता है
  • सर्वनाम पदबंध होता है
  • विशेषण पदबंध होता है
  • उपर्युक्त सभी

विशेषण पदबंध होता है

Ques 6: आशु रोते-रोते सो गई। रेखांकित पदबंध है-

  • संज्ञा पदबंध
  • सर्वनाम पदबंध
  • क्रिया पदबंध
  • सभी

क्रिया पदबंध

Ques 7: वर्षाकाल में रोपा गया गुलमोहर का पौधा तीव्र वेग से फलता-फुलता जा रहा था। रेखांकित पदबंध है-

  • क्रिया पदबंध
  • विशेषण पदबंध
  • सर्वनाम पदबंध
  • क्रियाविशेषण पदबंध

क्रियाविशेषण पदबंध

Ques 8: उसके जीवनभर की कमाई क्षणभर में नष्ट हो गई। रेखांकित पदबंध है-

  • संज्ञा पदबंध
  • सर्वनाम पदबंध
  • क्रिया पदबंध
  • क्रियाविशेषण पदबंध

संज्ञा पदबंध

Ques 9: ‘क्रियाविशेषण पदबंध’ का ही दूसरा नाम है-

  • विशेषण पदबंध
  • अव्यय पदबंध
  • सर्वनाम पदबंध
  • इनमें से कोई नहीं

अव्यय पदबंध

Ques 10: कल-कल, छल-छल निनादिनी गंगा गंगोत्री से बंगाल की खाड़ी तक का लंबा सफर करती है। रेखांकित पदबंध है-

  • संज्ञा पदबंध
  • सर्वनाम पदबंध
  • विशेषण पदबंध
  • अव्यय पदबंध

विशेषण पदबंध

Ques 11: पदबंध होता है-

  • वाक्यखंड
  • उपवाक्य
  • वाक्य
  • मुहावरा

वाक्यखंड

Ques 12: पूनम की चाँदनी के मनोहर वातावरण में महाबलिपुरम् शांत है; पर उसे लगता है कि पहाड़ के रथ-रथ पर अभी कोई टुक-टुक करके अपना नाम खोद रहा है। रेखांकित पदबंध है-

  • अव्यय पदबंध
  • विशेषण पदबंध
  • क्रिया पदबंध
  • संज्ञा पदबंध

संज्ञा पदबंध

Ques 13 : दैनिक जीवन में हम अनेक लोगों से मिलते हैं, जो विभिन्न प्रकार के काम करते हैं। रेखांकित पद हैं-

  • पदबंध
  • उपवाक्य
  • वाक्य
  • वाक्यांश

उपवाक्य

Ques 14: हाय ! सही नहीं जाती ग्रीष्म की उष्णता। यदि इस वाक्य में संज्ञा पदबंध को संकेतित किया जाय तो वह होगा-

  • हाय ! सही नहीं जाती
  • सही नहीं जाती
  • ग्रीष्म की उष्णता
  • उपर्युक्त सभी

ग्रीष्म की उष्णता

Ques 15:जब दो या दो से अधिक पद मिलकर एक ही शाब्दिक इकाई को पुष्ट करे, तब ऐसे पद-समूह को हम-

  • उपवाक्य कहते हैं
  • वाक्य कहते हैं
  • कहावत कहते हैं
  • पदबंध कहते हैं

पदबंध कहते हैं

Ques 16: पचास रूपयों से मेरा काम नहीं चलने को। रेखांकित संज्ञा पदबंध किस कारक की ओर संकेत करता है ?

  • अपादान कारक
  • सम्प्रदान कारक
  • करण कारक
  • कर्ता कारक

करण कारक

Ques 17: ओ सोने की लंका पर घमंड करनेवाले पापी रावण ! तेरी लंका को मैं क्षणभर में जलाकर खाक कर दूँगा। उपर्युक्त वाक्य में यदि संज्ञा बताना हो और उसका संबोधन रूप तो वह पदबंध कहाँ-से-कहाँ तक होना चाहिए ?

  • ओ ……. घमंड
  • सोने की ……. पापी
  • ओ सोने …….. पापी रावण
  • जलाकर ……. दूँगा

ओ सोने …….. पापी रावण

Ques 18: यह परियोजना अगले साल के अन्त तक पूरी होगी। उक्त वाक्य में अव्यय पदबंध है-

  • यह परियोजना अगले साल
  • साल के अंत तक पूरी
  • परियोजना अगले साल के
  • अगले साल के अन्त तक

अगले साल के अन्त तक

Ques 19: वह आता, दो टूक कलेजे के करता पछताता पथ पर आता। रेखांकित पदबंध है-

  • संज्ञा पदबंध
  • विशेषण पदबंध
  • क्रिया पदबंध
  • अव्यय पदबंध

क्रिया पदबंध

Ques 20: जो लड़के दिन-रात मेहनत करते हैं, वे परीक्षा में सफल होते हैं, रेखांकित पदों को कहा जा सकता है-

  • पदबंध
  • वाक्य
  • उपवाक्य
  • वाक्यांश

उपवाक्य

Ques 21: चार दिनों की बासी, फुफरी रोटी भी खाते बड़े चाव से। रेखांकित पदबंधों का सही युग्म है-

  • विशेषण-अव्यय पदबंध
  • संज्ञा-अव्यय पदबंध
  • विशेषण-क्रिया पदबंध
  • इनमें से कोई नहीं

विशेषण-अव्यय पदबंध

Ques 22: अपने हिस्से में बहुत-सारा रोना भी थोड़ा पड़ा। रेखोंकित पद हैं-

  • अव्यय पदबंध
  • क्रिया पदबंध
  • संज्ञा पदबंध
  • उपर्युक्त सभी

संज्ञा पदबंध

Ques 23: वह दाँत टूटी महिला, जो होती किसी मजबूर मजदूर की ’डायन‘ कह पीटता और प्रताड़ित करता है। रेखांकित पद हैं-

  • संज्ञा पदबंध
  • विशेषण उपवाक्य
  • अव्यय पदबंध
  • वाक्यखंड

विशेषण उपवाक्य

Ques 24: ओ कहानीकारो ! नूतन कहानियाँ गढ़ो अपने अपोषित बच्चों के क्रंदन की। रेखांकित पदबंध है-

  • संज्ञा पदबंध
  • विशेषण पदबंध
  • क्रिया पदबंध
  • यह पदबंध के अंतर्गत नहीं आएगा

संज्ञा पदबंध

Ques 25: काँपती सड़कों को रौंदती चली जा रही कई यात्रियों वाली हाँफती-गुर्राती, किकियाती एक गाड़ी। रेखांकित पदबंध का नाम है-

  • संज्ञा पदबंध
  • विशेषण पदबंध
  • अव्यय पदबंध
  • क्रिया पदबंध

क्रिया पदबंध

Leave a Reply

Your email address will not be published.