October 25, 2021

Hindi Matra : मात्रा का सही उपयोग करना सीखें! आपके अंक नहीं कटेंगे

Hindi Matra : मात्रा का सही उपयोग करना सीखें ! आपके अंक नहीं कटेंगे : हिंदी मात्रा की जानकारी, how to write hindi matrayein? हिंदी में कितनी प्रकार की मात्राएं होती हैं? hindi matrayein complete information, हिंदी मात्राएं सीखें, हमने यहाँ hindi matra chart बनाया है , हिंदी मात्राओं का ज्ञान, learn hindi matra, स्वर की मात्राएं, swar matrayein worksheet, हिंदी में मात्राओं का प्रयोग, full hindi matra chart, मात्राएं क्या हैं, what is matra, हिंदी मात्रा सीखें, yahan hindi matra chart with words diye hain,  मात्रा का सही उपयोग करना सीखें, learn hindi matrayein without mistake,  मात्राएं कैसे लगाएं|

hindi matra

इस लेख के माध्यम से हम आपको बताएंगे की हिंदी शब्दों में मात्राओं का प्रयोग किस प्रकार करें| नीचे प्रदान किये गए टेबल से जानें की हिंदी शब्दों में मात्राएं किस प्रकार इस्तेमाल की जाती हैं| ये मात्राएं आपके शब्दों को एक अर्थ देने का काम करते हैं| नीचे दिए गए टेबल में बताया गया है की स्वर की मात्राएं किस प्रकार से उपयोग की जाएँ, ताकि इन मात्राओं को शब्दों में प्रयोग करते समय आप किसी भी प्रकार की गलती न करें| हिंदी में मात्राओं का सही ज्ञान लेने के लिए इस लेख को अंत तक पढ़ें और अपने को मात्राओं में एक दम परफेक्ट बनाएं|

Hindi Matra : हिंदी मात्राओं का सही उपयोग

यह तो हम सभी जानते हैं की मात्रा स्वर का ही एक रूप होता है, जो वर्णों में स्वर का ही प्रतिनिधित्व करता है| आपको बता दें की इन मात्राओं की कुल संख्या ग्यारह होती है। लेकिन दूसरे रूप में देखें तो यह संख्या दस है। ऐसा इसीलिए है, क्योंकि ‘अ’ स्वर की मात्रा अलग रूप से नहीं लिख सकते हैं। इसलिए ‘अ’ स्वर को उदासीन स्वर कहा जाता है।

I ki matra ke shabd in hindi, A ki matra ke shabd, aa ki matra ke shabd, u ki matra ke shabd, oo ki matra ke shabd,
मात्रा उदाहरण
उदासीन स्वर  यह उदासीन स्वर है अथवा आप यह कह सकते हैं की अ एक उदासीन स्वर है और जब हम किसी शब्द में कोई मात्रा नहीं लगाते हैं तो वो उदासीन स्वर होता है – जैसे की कम, बम, वन
राम, आम, काम,
ि लिख, पित, मिट,
रीत, प्रीत, मीत
गुम, चुप, छुप
मून, दून,
वृद्धि, वृचक, तृप्त
रेत, सेठ, मेट
पैसा, कैसा, जैसा
मोल, ढोल, टोल
औसत, नौबत, लौटा
ां अंत, संत, पंत
ाः स्वतः, अतः

हिंदी में गिनती

हम सभी जानते हैं कि हिंदी एक ऐसी भाषा है जिसमें किसी अक्षर या वर्ण के चारों तरफ मात्राएं लगती है। अब ऐसे में किसी वर्ण के पहले मात्रा लगती है, जिसे छोटी मात्रा कहा जाता है| किसी वर्ण के पीछे मात्रा लगती है जिसे बड़ी मात्रा कहा जाता है| ऐसे में कुछ मात्राएं ऐसी होती हैं जो वर्ण के ऊपर लगती हैं, तो ऐसी मात्राओं को उपली मात्रा कहा जाता है, और कुछ मात्राएं वर्ण के नीचे लगती हैं, तो इन्हे निचली मात्रा कहा जाता है| अब ऐसे में कुछ मात्राएं ऐसी होती हैं जो वर्ण के बीच में लगती हैं, उदाहरण के लिए – क्रिया, रूपक| इनमें र की मात्रा क पर लग रही है, और दूसरे में ू की मात्रा र पर|

हिंदी स्वर से बनने वाली मात्राएं और उनका उपयोग

नीचे हमने आपको एक टेबल प्रदान की है, जिसकी मदद से आप आसानी से पता लगा सकते हैं की किस प्रकार के स्वर की किस प्रकार की मात्रा होती है, और इन मात्राओं को शब्दों में किस प्रकार इस्तेमाल करें, ताकि वह हमें सही अर्थ प्रदान करें|

स्वर मात्रा प्रयोग
उदासीन स्वर कम
राम
ि लिख,
भीम
गुम
खून
कृषि
खेत
वैसा
बोल
कौआ
अं ां गंगा
अ: ाः अतः

यूँ तो बच्चों को छोटी कक्षा से ही मात्राओं का ज्ञान देना शुरू कर दिया जाता है, पर बहुत से बच्चे ऐसे भी होते हैं, जो जल्दी से मात्राओं की सही जानकारी नहीं रख पाते, और अंत में होता यही है कि उनके अंक कम आते हैं| मात्राएं शदों को एक मतलब प्रदान करती हैं| इसीलिए इस लेख को ध्यान से पढ़ें, और मात्राओं का पूर्ण ज्ञान ले|

विलोम शब्द

पर्यायवाची शब्द

मुहावरे

आज हम आपको इस लेख में हिंदी की मात्राओं की जानकारियां उपलब्ध कराने जा रहे हैं, हम उम्मीद करते हैं की ये जानकारियां आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होंगी और आपको परीक्षाओं, प्रतियोगिताएं के लिए तैयार करेंगी| हिंदी भारत की मातृभाषा है, और इसकी सम्पूर्ण जानकारियां होना हम सबके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है| इस लेख के माध्यम से हमने एक प्रयास किया है की आपको हम स्वरों की मात्राओं की साड़ी जानकारियां उपलब्ध करा सकें| पोस्ट को अंत तक पढ़ें और हमें अपने सुझाव भेजें|

नीचे हमने आपको एक टेबल प्रदान की है, जिसकी मदद से आप आसानी से पता लगा सकते हैं की किस प्रकार के स्वर की किस प्रकार की मात्रा होती है, और इन मात्राओं को शब्दों में किस प्रकार इस्तेमाल करें, ताकि वह हमें सही अर्थ प्रदान करें|

हम उम्मीद करते हैं की ऊपर प्रदान की गयी जानकारी आपके लिए लाभकारी साबित होगी, और आप मात्राओं के भेद को अच्छे से जान पाएंगे| अगर आप किसी प्रकार की मदद चाहते हैं तो आप हमे हमारे कमेंट बॉक्स के द्वारा संपर्क कर सकते हैं| हम आपको आपके सभी सवालों का उत्तम जवाब देने की कोशिश करेंगे|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *