April 15, 2024

उप-निरीक्षक नागरिक पुलिस (SI) भाग – 1: सामान्य हिन्दी

उप-निरीक्षक नागरिक पुलिस (SI) भाग – 1: सामान्य हिन्दी : उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती और प्रोन्नति बोर्ड ने यूपी पुलिस एसआई भर्ती 2022 के लिए आधिकारिक अधिसूचना जारी की है। यूपीपीआरपीबी उत्तर प्रदेश पुलिस में सब इंस्पेक्टर पदों के लिए उम्मीदवारों की भर्ती के लिए हर साल यूपी पुलिस एसआई परीक्षा आयोजित करता है। इस पोस्ट में, हम आपको उत्तर प्रदेश पुलिस सब इंस्पेक्टर प्रश्न पत्र पीडीएफ उत्तर कुंजी के साथ उपलब्ध कराने जा रहे हैं। आगामी यूपी पुलिस सब-इंस्पेक्टर परीक्षा 2022 के लिए उपस्थित होने से पहले आप इन पेपरों को डाउनलोड कर सकते हैं और उनका अभ्यास कर सकते हैं।

उप-निरीक्षक नागरिक पुलिस (SI) भाग – 1: सामान्य हिन्दी

Ques 1: जहाँ उपमेय में उपमान की संभावना प्रकट की जाती है, वहाँ …….. अलंकार होता है। दिए गए विकल्पों में से सही का चयन करें।

  • विभावना
  • श्लेष
  • अनुप्रास
  • उत्प्रेक्षा

जहाँ उपमेय में उपमान संभावना प्रकट की जाती है, वहाँ उत्प्रेक्षा अलंकार होता है; जैसे-चित्रकूट प्रकट जतु अचल अहेरी।
अन्य विकल्पों में,
जहाँ कारण के न होते हुए भी कार्य का होना पाया जाता है, वहाँ ‘विभावना अलंकार’ होता है; जैसे- बिनु पग चलै सुनै बिनु काना। जब किसी शब्द का प्रयोग एक बार ही किया जाता है, पर उसके एक से अधिक अर्थ निकलते हैं, तो वहाँ ‘श्लेष अलंकार’ होता है;
जैसे- पानी गए न ऊबरै, मोती मानुष चून।
‘अनुप्रास अलंकार’ में एक ही वर्ण की आवृत्ति होती है;
जैसे- चारु चन्द्र की चंचल किरणें।

Ques 2: निम्न वाक्यों में एक वाक्य व्याकरण की दृष्टि से शुद्ध है, पहचानिए-

  • गर्मी की उमस के बाद वर्षा शुरू हुई।
  • विश्वनाथन अपने परिवारियों के साथ किसी महानगर में एक छोटे तंग मकान में रहता है।
  • कई सालों से निर्मला के मन में तीर्थयात्राओं की बड़ी लालसा थी।
  • यदि हमने जीवन में सब कुछ प्राप्त करना है, तो पुरुषार्थ को अपने जीवन का लक्ष्य बनाना चाहिए।

‘‘गर्मी की उमस के बाद वर्षा शुरू हुई।’’ यह वाक्य व्याकरण की दृष्टि से शुद्ध है।
अन्य विकल्पों में, वाक्य अशुद्ध है। इन वाक्यों का शुद्ध रूप होगा-
‘‘विश्वनाथन अपने परिवार के साथ किसी महानगर में एक छोटे तंग मकान में रहता है।’’
‘‘कई सालों से निर्मला के मन में तीर्थयात्रा की बड़ी लालसा थी’’
‘‘यदि हमें जीवन में सब कुछ प्राप्त करना है, तो पुरुषार्थ को अपने जीवन का लक्ष्य बनाना चाहिए।’’

Ques 3: दिए गए विकल्पों में से सही विकल्प का चयन कर रिक्त स्थानों की पूर्ति करें-
‘‘भारतीय क्रिकेट टीम को वर्ष 1983 में एकदिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट ………. मैं विश्व विजेता बनाने का …….कपिल देव को जाता है।’’

    • जगत, उल्लेख

<liइनमें से कौन-सा विकल्प ’शब्दालंकार‘ का भेद नहीं है ?>श्रृखला, श्रेय

  • समूह, नाम
  • प्रतियोगिता, काम

 

’’भारतीय क्रिकेट टीम को वर्ष 1983 में एकदिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट श्रृंखला में विश्व विजेता बनाने का श्रेय कपिल देव को जाता है।‘‘ यह पूर्ण वाक्य है। अतः विकल्प (b) सही उत्तर है।

Ques 4: दिए गए विकल्पों में से पुल्लिंग शब्द कौन-सा है ?

  • घाघरा
  • वृष्टि
  • रात्रि
  • नृप

(*) यहाँ घाघरा व नृप दोनों पुल्लिंग शब्द है।

Ques 5: जिस शब्द में त्रुटि नहीं है, उसका चयन करें

  • छत्रीछाया
  • छत्रच्छाया
  • छतरछाया
  • छत्रोछाया

छत्रछाया शुद्ध शब्द है। अन्य विकल्प असंगत हैं।

Ques 6: इनमें से कौन-सा विकल्प ’शब्दालंकार‘ का भेद नहीं है ?

  • श्लेष
  • अनुप्रास
  • यमक
  • रूपक

रूपक, ’शब्दालंकार‘ का भेद नहीं है। शब्दालंकार में काव्य में ’शब्द‘ के कारण चमत्कार उत्पन्न होता है। अनुप्रास, श्लेष, यमक आदि शब्दालंकार हैं, जबकि ’रूपक‘ अर्थालंकार का भेद हैं।

Ques 7: “भारत की सबसे चैड़ी नदी ब्रहा्रपुत्र तथा सबसे लम्बी नदी गंगा है।” वाक्य में प्रयुक्त शब्द ‘सबसे’ क्या है ?

  • प्रविशेषण
  • विशेष्य
  • विशेषण
  • क्रिया विशेषण

“भारत की सबसे चैड़ी नदी ब्रहा्रपुत्र तथा सबसे लम्बी नदी गंगा है” वाक्य में ‘सबसे’ विशेषता बताने वाला शब्द होता है। यहाँ ‘नदी’ विशेष्य है। ‘विशेषण’, विशेषता बताने वाला शब्द होता है। यहाँ ‘लम्बी’ विशेषण शब्द है। ‘क्रिया’ की विशेषता बताने वाले शब्द क्रिया-विशेषण होते हैं।

Ques 8:दिए गए विकल्पों में से ‘अपेक्षा’ का अर्थ कौन-सा है ?

  • उपेक्षा
  • अन्धकार
  • स्निग्ध
  • अभिलाषा

यहाँ ’अपेक्षा‘ का अर्थ अभिलाषा है।
अन्य विकल्पों में, उपेक्षा – उदासीनता
अंधकार – अन्धेरा
स्निग्ध – चिकना

Ques 9: दिए गए वाक्यों में त्रुटिहीन वाक्य कौन-सा है ?

  • शरीर पर ताकत होनी चाहिए।
  • शरीर से ताकत होनी चाहिए।
  • शरीर के अन्दर ताकत होनी चाहिए।
  • शरीर में ताकत होनी चाहिए।

दिए गए विकल्पों में, “शरीर में ताकत होनी चाहिए।” वाक्य त्रुटिहीन है।

Ques 10: दिए गए विकल्पों में से कौन-सा विकल्प ’’सब्ज बाग दिखाना‘‘ मुहावरे का अर्थ दर्शाता है ?

  • झूठे वायदे करना
  • सब्जियों के बाग दिखाना
  • हिम्मत बँधाना
  • हरे-भरे उद्यानों की सैर करना

“शब्ज बाग दिखाना” एक मुहावरा है, जिसका अर्थ होता है-झूठे वायदे करना।
वाक्य प्रयोग – साहिल ने हिना को सब्ज बाग दिखाने शुरू कर दिए हैं।

Ques 11: “पुराने रीति-रिवाजों में जकड़ा होना” पर आधारित मुहावरा, दिए गए विकल्पों में से कौन-सा विकल्प है ?

  • मक्खी पर मक्खी मारना।
  • सीधी राह चलना।
  • ढाक के तीन पात
  • लकीर का फकीर।

’’पुराने रीति-रिवाजों मे जकड़ा होना‘‘, लकीर का फकीर मुहावरे का अर्थ है।
वाक्य प्रयोग-मेरी दादी तो बिल्कुल ’लकीर की फकीर’ ही है। अन्य विकल्पों में,
मक्खी पर मक्खी मारना-कोई काम न होना।
सीधी राह चलना-सही रास्ते पर चलना।
ढाक के तीन पात-सदा एक-सा रहना।

Ques 12: दिए गए विकल्पों में से ’अवनि‘ का विरुद्धार्थी कौन-सा है ?

  • अग्नि
  • अमन
  • चक्षु
  • अम्बर

विरुद्धार्थी अर्थात् विपरीतार्थक विलोम शब्द होते हैं। ये शब्दों में उल्टे अर्थ बताते हैं। यहाँ ’अवनि‘ (धरती) का विरुद्धार्थी शब्द अम्बर (आकाश) होगा। अन्य विकल्पों के विरुद्धार्थी शब्द होंगे-
अग्नि-जल अमन-बेअमन
चक्षु का अर्थ आँख होता है, जिसका कोई विरुद्धार्थी शब्द नहीं है।

Ques 13 : दिए गए विकल्पों में से स्त्रीलिंग शब्द कौन-सा है ?

  • पुदीना
  • भ्रमर
  • चूल्हा
  • काया

काया स्त्रीलिंग शब्द है। स्त्रीलिंग शब्द स्त्री जाति के होने का बोध कराते हैं। अन्य शब्द पुदीना, भ्रमण, चूल्हा पुल्लिंग शब्द हैं। ये शब्द पुरुष जाति का होने का बोध कराते हैं।

Ques 14: “काठ की हांडभ् बार-बार नहीं चढ़ती” का आशय है।

  • लकड़ी का बर्तन अग्नि से जल जाता है।
  • छल-कपट का व्यवहार हमेशा नहीं चलता।
  • दुर्भाग्य की मार बार-बार नहीं होती।
  • बुरे दिन हमेशा नहीं रहते

“काठ की हांडभ् बार-बार नहीं चढ़ती” एक लोकोक्ति या कहावत है, जिसका अर्थ होता है- ‘छल-कपट का व्यवहार हमेशा नहीं चलता।’
वाक्य प्रयोग – राजू अपने कारनामों से बाज नहीं आ रहा है, उसे यह नहीं पता कि काठ की हांड़ी बार-बार नहीं चढ़ती है।

Ques 15: “लिखित भाषा में हम अपने विचार लिखकर प्रकट करते हैं।” वाक्य का काल पहचानिए

  • सामान्य भूतकाल
  • सामान्य वर्तमानकाल
  • पूर्ण वर्तमानकाल
  • सम्भाव्य भविष्यत्काल

“लिखित भाषा में अपने विचार लिखकर प्रकट करते हैं” वाक्य सामान्य वर्तमानकाल का उदाहरण है। जो क्रिया वर्तमान में सामान्य रूप से होती है, वह सामान्य वर्तमान काल की क्रिया कहलाती है।
अन्य विकल्पों में,
क्रिया का वह रूप, जिससे बीते हुए समय में कार्य के होने का बोध हो, किन्तु ठीक समय का ज्ञान न हो, वहाँ ‘सामान्य भूतकाल’ होता है।
‘पूर्ण वर्तमानकाल’ में कार्य वर्तमान में पूर्ण हो चुका होता है।
‘सम्भाव्य भविष्यत्काल’ में कार्य की भविष्य में होने की सम्भावना होती है।

Ques 16: “मैया! मैं तो चन्द्र खिलौना लैहों।” पंक्ति में कौन-सा अलंकार है ?

  • यमक अलंकार
  • उत्प्रेक्षा अलंकार
  • रूपक अलंकार
  • श्लेष अलंकार

“मैया, मैं तो चन्द्र खिलौना लैहो”‘ में रूपक अलंकार हैं, क्योंकि यहाँ उपमेय (चन्द्र) में उपमान (खिलौना) का भेद रहित आरोप हैं।
अन्य विकल्पों में,
‘यमक अलंकार’ में काव्य में एक ही शब्द एक से अधिक बार दिया होता है तथा प्रत्येक जगह उसका अर्थ अलग-अलग होता है;
जैसे-
“तीन बेर खाती थी, तीन बेर खाती है।”
‘उत्प्रेक्षा अलंकार’ में उपमेय में उपमान की सम्भावना होती है; जैसे-
‘श्लेष अलंकार’ में एक ही शब्द के कई अर्थ निकलते हैं जैसे-
“पानी गए न ऊबरै, मोती मानुष चून।”

Ques 17: दिए गए विकल्पों में से सही का चयन कर रिक्त स्थानों की पूर्ति करें ’’यह रास्ता ………है, सावधानीपूर्वक चलें।”

  • अनुमोदन
  • अवाई
  • दुर्गम
  • ऋण

“यह रास्ता दुर्गम है, सावधानीपूर्वक चलें।”
“दुर्गम” का अर्थ ‘चलने में कठिन’ होता है, इसलिए यह विकल्प उपयुक्त है। अन्य विकल्प असंगत हैं।

Ques 18: “अन्धे के हाथ बटेर लगना” कहावत का आशय क्या है ?

  • किसी अयोग्य व्यक्ति को महत्वपूर्ण वस्तु प्राप्त हो जाना।
  • अन्धा भी अपना लक्ष्य प्राप्त कर सकता है।
  • बिना परिश्रम के सफलता मिल जाना।
  • भाग्य से कोई वस्तु मिल जाना।

“अन्धे के हाथ बटेर लगना” एक कहावत है, जोकि लोग (संसार) में वर्षों से प्रचलित है। जिसका अर्थ है-’किसी अयोग्य व्यक्ति को महत्वपूर्ण वस्तु प्राप्त हो जाना।’
वाक्य प्रयोग- रामू जैसे बदसूरत व्यक्ति की शादी रूपाली जैसी सुन्दर लड़की से होना अन्धे के हाथ बटेर लगना है।

Ques 19: “कनक कनक ते सौ गुनी मादकता अधिकाय।
वा खाए बौराए जग या पाए बौराए।।”
दिए गए दोहे में किस अलंकार को दर्शाया गया है ?

  • यमक
  • अनुप्रास
  • अन्योक्ति
  • उपमा

“कनक……..बौराए” दोहे में यमक अलंकार है, क्योंकि यहाँ एक ही शब्द ‘कनक’ दो बार आया है, लेकिन दोनों बार इसके अलग-अलग अर्थ हैं। पहले कनक का अर्थ ‘धतूरा’ है तथा दूसरे कनक का अर्थ ‘सोना है। अन्य विकल्पों में,
‘अनुप्रास अलंकार’ में स्वर की समानता के बिना भी वर्णों की आवृति होती है ; जैसे-
“मुदित महीपति मन्दिर आए। सेवक सचिव सुमत बुलाए।।”
‘अन्योक्ति अलंकार’ में अप्रस्तुत के माध्यम से प्रस्तुत का वर्णन किया जाता है ; जैसे-
“नहिं पराग नहिं मधुर मधु नहिं विकास इतिकाल।
अली कली ही सौं बिध्यौं आगे कौन हवाल।।”
‘उपमा अलंकार‘ में, प्रस्तुत (उपमेय) की अप्रस्तुत (उपमान) से समानता होती है; जैसे-
“हरि पद कोमल कमल से।”

Ques 20: दिए गए विकल्पों में से ’संक्षिप्त‘ का अर्थ कौन-सा है ?

  • मुख्तसर
  • विराम
  • मुख्य
  • व्याख्या

‘संक्षिप्त’ का अर्थ मुख्तसर होता है।
‘मुख्तसर’ का अर्थ होता है- छोटा, लघु आदि।
अन्य विकल्पों में, ‘विराम’ का अर्थ ‘समाप्ति’, ‘मुख्य’ का अर्थ ‘प्रधान या सर्वोच्च’ तथा ‘व्याख्या’ का अर्थ ’विश्लेषण‘ होता है।

Ques 21: “उसकी दृष्टि में वह कभी इतने आदर और स्नेह के ……… न थी”। दिए गए विकल्पों में से सही का चयन कर रिक्त स्थान की पूर्ति करें

  • वंचित
  • योग्य
  • विरूद्ध
  • अघोष

“उसकी दृष्टि में वह कभी इतने आदर और स्नेह के योग्य न थी।” अन्य विकल्प असंगत हैं।

Ques 22: दिए गए विकल्पों में से ‘ऊध्र्व’ शब्द के सही विलोम का चयन कीजिए

  • अधः
  • पुष्ट
  • क्षणिक
  • अन्त

‘ऊर्ध्व’ शब्द का विलोम शब्द अधः होता है। विलोम शब्द का अर्थ होता है-विपरीत या उल्टा होना।
अन्य विकल्पों में,
पुष्ट-कृश, क्षीण क्षणिक-शाश्वत अन्त-आदि

Ques 23: किस वर्ष में लाॅर्ड विलियम बैंटिक ने ‘अंग्रेजी शिक्षा एक्ट’ को लागू करवाया था ?

  • 1835
  • 1855
  • 1841
  • 1839

‘अंग्रेजी शिक्षा अधिनियम (एक्ट)’ भारत की परिषद का विधायी अधिनियम था, जिसे लाॅर्ड विलियम बैण्टिक ने वर्ष 1835 में लागू किया था। या लाॅर्ड मैकाले की शिक्षा पद्धति की योजना का ही एक अंग था।

Ques 24: दिए गए विकल्पों में से सही विकल्प का चयन कर रिक्त स्थानों की पूर्ति करें
“रामायण और महाभारत काल में विमान होते थे, ऐसा हमने अपने …….. से सुना है और हिन्दू धर्मग्रन्थों में भी इसका ………. किया गया है।”

  • पूर्वजों, लेख
  • बड़ों, वर्णन
  • शास्त्रों, जिक्र
  • कानों, खुलासा

“रामायण और महाभारत काल में विमान होेते थे, ऐसा हमने अपने बड़ों से सुना है और हिन्दू धर्मग्रन्थों में भी इसका वर्णन किया गया है।” अतः विकल्प (b) सही है।

Ques 25: दिए गए विकल्पों में से ’स्वागत‘ का विच्छेद क्या होगा ?

  • स्व + अगत
  • सु + आगत
  • स्व + आगत
  • स्वा + गत

स्वागत का विच्छेद होगा
सु + आगत = स्वागत
यहाँ यण् सन्धि है, इसके अनुसार, इ-ई, उ-ऊ ऋ के सामने भिन्न स्वर होने पर क्रमशः य, व तथा र हो जाता है; जैसे-
सु + आगत = स्वागत (उ + आ = वा)

Ques 26: ‘काक पद’ का उपयोग कब होता है ?

  • वाक्य के बीच विराम लेने पर
  • बार-बार एक ही बात के लिए
  • शोक प्रकट करने पर
  • छूटे हुए अंश के लिए

‘काक पद‘ या ’हंसपद‘ या ’त्रुटिपूरक‘ विराम चिन्ह का प्रयोग पंक्ति के नीचे यह सूचित करने के लिए लगाया जाता है कि यहाँ वह पद या अंश छूट गया है, जो ऊपर लिखा गया है; जैसे- राजू कल मुंबई में था।

Ques 27: ‘अग्नि परीक्षा‘ किस रचनाकार की कृति है ?

  • कौटिल्य
  • चतुरसेन
  • आचार्य तुलसी
  • प्रेमचन्द

‘अग्नि परीक्षा’ आचार्य तुलसी द्वारा लिखी गई है। आचार्य तुलसी जैन धर्म के श्वेताम्बर तेरह पंथ के नौवें आचार्य थे। ये अणुव्रत और जैन विश्व भारती विश्वविद्यालय में प्रवर्तक थे। उन्होंने 100 से भी अधिक पुस्तके लिखी है।
अन्य विकल्पों में, कौटिल्य की प्रसिद्ध रचना ’अर्थशास्त्र‘ है।
चतुरसेन जी की ‘वैशाली की नगरवधु’ तथा प्रेमचन्द जी की ‘गबन’, ‘गोदान’ आदि प्रसिद्ध पुस्तके हैं।

Ques 28: द् + अ + क् + ष + अ = घ्

  • दाग
  • दकष
  • दक्ष
  • दक्श

द् + अ + क् + ष + अ = दक्ष
यह दक्ष का वर्ण विच्छेद है।
अन्य विकल्पों में,
दाग-द् + आ + ग् + अ।
यहाँ ‘दकष’ तथा ‘दक्श’, दक्ष शब्द के विकृत रूप हैं।

Ques 29: ‘ब्राह्मण’ शब्द के शुद्ध रूप का चयन करें

  • ब्रहा्रण
  • ब्राहा्रण
  • ब्राहा्रन
  • ब्राम्हाण

’ब्राह्मण’ अशुद्ध शब्द है, इसका शुद्ध रूप होगा-ब्राहा्रण। अन्रू विकल्प असंगत हैं।

Ques 30: ’भारत की खोज‘ किसकी कृति है ?

  • सुभाषचन्द बोस
  • रवीन्द्रनाथ ठाकुर
  • जवाहरलाल नेहरू
  • महात्मा गाँधी

‘भारत की खोज’ जवाहरलाल नेहरू की कृति है।
अन्य विकल्पों में,
‘सुभाषचन्द्र बोस’ एक क्रान्तिकारी थे, जो ‘आजाद हिन्द फौज’ के प्रणेता थे।
‘रवीन्द्रनाथ ठाकुर’, कोलकाता के प्रसिद्ध राष्ट्रीय विचारक और साहित्यकार थे। ‘गीतांजलि’ इसकी प्रसिद्ध रचना है।
‘महात्मा गाँधी’ भारतीय स्वतन्त्रता आन्दोलन के प्रमुख राजनैतिक व आध्यात्मिक नेता थे। इन्होंने अनेक प्रसिद्ध ग्रन्थ लिखे-’हिन्द स्वराज’, ‘दक्षिण अफ्रीका के सत्यागृह का इतिहास’, ‘सत्य के प्रयोग’ (आत्मकथा) तथा ‘गीता पदार्थ कोश’ आदि।

निर्देश (प्र.सं. 31-33) दिए गए गद्यांश को ध्यानपूर्वक पढ़िए तथा प्रश्नों के उत्तर दीजिए
रामभक्ति शाखा के सर्वाधिक प्रसिद्ध सन्तकवि तुलसीदास हैं। उन्होंने समाज और जन-जीवन में फैल रहे अनाचार को रोकने के लिए राम के ऐसे आदर्श रूप को प्रस्तुत किया, जो व्यक्ति, परिवार, समाज और राजनीति में आदर्श मर्यादाओं की स्थापना करते हैं; जो जीवन के विरोधों में समन्वय का सन्देश देते हैं। भारतीय समाज ऐसे राम को पाकर मध्ययुग की इस बर्बरता में भी जीवित रहा सका।

Ques 31: उपर्युक्त गद्यांश में किन-किन विराम चिन्हों का प्रयोग किया गया है ?

  • अर्द्धविराम, पूर्णविराम, अवतरण
  • लाघवचिन्ह, काकपद, अल्पविराम
  • अल्पविराम, प्रश्नवाचक, पूर्णविराम
  • अर्द्धविराम, अल्पविराम, पूर्णविराम

दिए गए गद्यांश में अर्द्धविराम (;) अल्प विराम (,) तथा पूर्ण विराम (।) का प्रयोग किया गया है।

Ques 32: सन्त कवि ने किसके जीवन पर रचना की है ?

  • शिव
  • राम
  • तुलसी
  • कृष्ण

गद्यांश के अनुसार, सन्त कवि तुलसीदास ने श्रीराम के जीवन पर रचना की है।

GK, GS, Maths, Reasoning Quiz के लिए टेलीग्राम चैनल ज्वाइन करें - Join now

v

Ques 33: ‘बर्बरता’ शब्द का समानार्थी होगा ?

  • निर्माणाधीन
  • नृशंसता
  • अस्तित्व
  • अत्यन्त

’बर्बरता‘ के समानाथ्ज्र्ञी शब्द हैं- नृशंसता, क्रूरता, निर्दयता आदि।

Ques 34: ‘रश्मिरथी’ के रचयिता कौन हैं ?

  • श्यामसुन्दर दास
  • पण्डित जगन्नाथ
  • शिवसिंह
  • रामधारी सिंह दिनकर

‘रश्मिरथी’ एक खण्डकाव्य है, जिसमें कर्ण के जीवन का वर्णन किया गया है। इसके लेखक रामधारी सिंह दिनकर हैं।
अन्य विकल्पों में,
‘श्यामसुन्दर दास’ प्रसिद्ध आलोचक तथा विद्धान थे। इन्होने ‘भाषा विज्ञान’ जैसी कई अनमोल कृतियाँ लिखी।
‘पंण्डित जगन्नाथ’ भी उच्च कोटि के कवि व समालोचक थे। उन्होंने ‘रस’ गंगाधर’ जैसी प्रसिद्ध कृति लिखी।
‘शिवसिंह सेंगर’ हिन्दी के प्रसिद्ध लेखक थे। इनकी प्रसिद्ध कृति है-‘शिवसिंह सरोज’।

Ques 35: “गरीब घर के लोग का जीवन दयनीय होता है।” वाक्य में रेखांकित शब्दों के वचन बदलिए

  • घरों, लोग
  • घर, लोगों
  • घरोंओं, लोगोंओं
  • घरों, लोंगों

“गरीब घरों के लोगों का जीवन दयनीय होता है।”
घर (एकवचन) = घरों (बहुवचन)
लोग (एकवचन) = लोगों (बहुवचन)

Ques 36: ‘अवगाहन’ शब्द का समानार्थी शब्द दिए गए विकल्पों में से कौन-सा है ?

  • स्वागत करना
  • जाना
  • आसन
  • छानबीन

’अवगाहन‘ के समानार्थी शब्द होंगे- छानबीन, चिन्तन, तल्लीनता, तन्मयता आदि। अतः विकल्प (d) सही उत्तर है।

Ques 37: “चन्द्र रूपये बनाने के चक्कर में कई लोगों को शर्मसार होगा पड़ा।” इस वाक्य में प्रयुक्त विशेषण का भेद पहचानिए

  • विभागबोधक
  • निश्चित संख्यावाचक
  • निश्चित परिमाणवाचक
  • अनिश्चित संख्यावाचक

“चन्द्र रूपये बनाने के चक्कर में कई लोगों को शर्मसार होना पड़ा।” वाक्य में ‘कई’ शब्द अनिश्चित संख्यावाचक विशेषण है। ऐसे विशेषण, जो हमें किसी संज्ञा या सर्वनाम की निश्चितता नहीं बतातें, उन्हें अनिश्चित संख्यावाचक विशेषण कहते हैं; जैंसे-कुछ, अनेक, कई, सब आदि।
अन्य विकल्पों में,
जो विशेषण संज्ञा की निश्चितता बताते हैं, उन्हें ‘निश्चित संख्यावाचक विशेषण’ कहते हैं तथा जो निश्चित मात्रा का बोध कराते हैं, उन्हें ‘निश्चित परिमाणवचक विशेषण’ कहते हैं।

Ques 38: “हमारा अध्यापक अमेरिका की वाद-विवाद प्रतियोगिता का विजेता बन, भारत लौट आया।” रेखांकित शब्द के स्थान पर उपयुक्त विकल्प का प्रयोग करें-

  • अध्यापकों
  • अध्यापक लोग
  • अध्यापक समूह
  • अध्यापक वृन्द

“हमारा अध्यापक अमेरिका की वाद-विवाद प्रतियोगिता का विजेता बन, भारत लौट आया।” वाक्य में ’अध्यापक‘ शब्द की जगह अध्यापक समूह का प्रयोग होगा।

Ques 39: दिए गए विकल्पों में से सही विकल्प का चयन कर रिक्त स्थानों की पूर्ति करें
“शब्द के जिस रूप से यह ज्ञात हो कि वह शब्द ……… का है या स्त्री जाति का, उसे ……….. कहते है”

  • मानव जाति, जाति
  • संज्ञा, सर्वनाम
  • पुरुष जाति, लिंग
  • पुरुष, अन्य पुरुष

“शब्द के जिस रूप से यह ज्ञात हो कि वह शब्द पुरुष जाति का है या स्त्री जाति का, उसे लिंग कहते हैं।” अतः विकल्प (c) सही है।

Ques 40: ‘आग की हँसी’ काव्य-संग्रह के लिए किस साहित्यकार को वर्ष 2015 के साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया ?

  • रुस्तम सिंह
  • राजेन्द्र यादव
  • केदारनाथ अग्रवाल
  • रामदरश मिश्र

‘आग की हँसी’ काव्य संग्रह के लिए साहित्यकार रामदरश मिश्र को वर्ष 2015 में ‘साहित्य अकादमी पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *