July 6, 2022
15 august speech in hindi

15 August Speech in Hindi 2022 – स्वतंत्रता दिवस पर Best भाषण

15 August Speech in Hindi 2022 – स्वतंत्रता दिवस पर Best भाषण : हम स्वतंत्रता दिवस को भारत के राष्ट्रीय पर्व के रूप में मनाते हैं। यह दिवस 15 अगस्त 1947 को ब्रिटिश साम्राज्य से राष्ट्रीय स्वतंत्रता की वर्षगांठ का प्रतीक है। इसके अलावा, यह भारत के लोगों के लिए सबसे शुभ दिन है क्योंकि भारत बहादुर भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों की बहुत सारी कठिनाइयों और बलिदानों के बाद स्वतंत्र हुआ है। उस दिन से 15 अगस्त भारतीय इतिहास में और प्रत्येक भारतीय के दिलों में एक बहुत ही महत्वपूर्ण दिन बन गया है। साथ ही पूरा देश इस दिन को देशभक्ति की पूरी भावना के साथ मनाता है।

भरा नहीं जो भावों से बहती जिसमें रसधार नहीं,
वह हृदय नहीं, वह पत्थर है जिसमे स्वदेश का प्यार नहीं।

‘स्वतंत्रता दिवस पर Best भाषण’

आजादी के बाद, पंडित जवाहरलाल नेहरू को भारत के पहले प्रधान मंत्री के रूप में चुना गया था। इसके अलावा, उन्होंने पहली बार राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली में लाल किले पर हमारा तिरंगा झंडा फहराया। उसके बाद से हम हर साल लाल किला नई दिल्ली में स्वतंत्रता दिवस मनाते हैं। इसके अलावा, सेना कई कार्य करती है जिसमें स्कूली छात्रों द्वारा मार्च पास्ट सांस्कृतिक कार्यक्रम भी शामिल है। ‘स्वतंत्रता दिवस पर Best भाषण’

15 August Speech in Hindi 2022 – स्वतंत्रता दिवस पर Best भाषण

इसके अलावा, हम स्वतंत्रता दिवस उन जीवन को याद करने के लिए मनाते हैं जो हमने इस स्वतंत्रता को प्राप्त करने के लिए बलिदान किए थे। क्योंकि वे वही हैं जिन्होंने हमारे देश के लिए संघर्ष किया। इसके अलावा, उनके दिन पर हम अपने मतभेदों को भूल जाते हैं और एक सच्चे राष्ट्र के रूप में एकजुट होते हैं।

15 August Speech in Hindi 2022

आज हम सभी एक स्वतंत्र भारत में जन्म लेने के अपने विशेषाधिकार को स्वीकार करने और अपने देश का 75वां स्वतंत्रता दिवस मनाने के लिए यहां हैं। हमें 1947 से पहले पैदा हुए लोगों से यह जानने की ज़रूरत नहीं है कि उन्होंने औपनिवेशिक शासन के तहत गुलाम होने की पीड़ा किस प्रकार सही। उन दिनों प्रत्येक भारतीय के लिए, उन शक्तिशाली दिग्गजों के लिए अंग्रेजों के खिलाफ लड़ना वास्तव में एक कठिन कार्य था।

उन कठिन समय और संघर्षों को हमारी यादों से मिटने नहीं देना चाहिए। इसलिए, प्रत्येक स्वतंत्रता दिवस पर, हम न केवल अपनी स्वतंत्रता का जश्न मनाते हैं, बल्कि उन लोगों को भी श्रद्धांजलि देते हैं जिन्होंने इसके लिए लड़ाई लड़ी, जिन्होंने हमारे देश के लिए एक दृष्टि रखी, और जिन्होंने इसके लिए खुद को बलिदान कर दिया।

शौक से मरे वतन पर कुछ जांबाज हमारे,
इतिहास के पन्नों पर नाम हमने गद्दारों का लिख दिया।

एक स्वतंत्र राष्ट्र होने का विचार, जहां संप्रभु शक्ति हमारे भविष्य का निर्धारण करने के लिए हमारे पास है, हमारे कंधों पर एक बड़ी जिम्मेदारी रखता है। इसकी खूबसूरत कहानी का महत्व यह है कि इस देश ने अपने द्वारा चुने गए लोकतांत्रिक मार्ग के लिए दुनिया से सम्मान प्राप्त किया है। हम गर्व से कह सकते हैं कि भारत ने अपने 10000 वर्षों के इतिहास में कभी किसी देश पर आक्रमण नहीं किया।

’15 August Speech in Hindi 2022′

इस अवसर पर, हमारे विचार सबसे पहले महात्मा गांधी की ओर मुड़ते हैं, जो हमारे स्वतंत्रता संग्राम के पीछे के व्यक्ति और हमारे देश की स्वतंत्रता के लिए सर्वोच्च बलिदान देने वाले शहीदों की ओर हैं। हमें हमारे महान देशभक्तों के अथक संघर्ष की भी याद आती है जिन्होंने हमारी मातृभूमि को औपनिवेशिक शासन से मुक्त कराया।

गांधीजी विदेशी शासन और स्वदेशी सामाजिक जंजीरों दोनों से मुक्ति की मांग कर रहे थे, जिन्होंने हमारे समाज को लंबे समय से कैद कर रखा था। हर दूसरे भारतीय को आत्मविश्वास और बेहतर भविष्य की आशा के पथ पर निर्देशित किया गया था। लोकतंत्र हमें एक देश के गौरवान्वित नागरिकों के रूप में स्वतंत्र रूप से जीने का अधिकार देता है। आज हम अपने स्वतंत्रता सेनानियों की दूरदृष्टि और बलिदान के कारण एक में रहने का सौभाग्य प्राप्त कर रहे हैं।

’15 August Speech in Hindi 2022′

नई दिल्ली में हर साल राजपथ पर एक बड़ा उत्सव मनाया जाता है, जहाँ प्रधानमंत्री द्वारा झंडा फहराने के बाद राष्ट्रगान गाया जाता है। साथ ही राष्ट्रगान के साथ 21 तोपों से फायर कर राष्ट्रीय ध्वज को सलामी दी जाती है और हेलीकॉप्टर से फूलों की वर्षा भी की जाती है। सभी बल परेड में भाग लेते हैं। अंत में, हम केवल यह नहीं कह सकते कि 15 अगस्त केवल स्वतंत्रता के बारे में है।

यह दिन भावनाओं का ढेर है, यह हमें गुलाम होने के दर्द की याद दिलाता है; एकता में ताकत का; यह बलिदान को परिभाषित करता है, यह हमें एक उदाहरण देता है कि कुछ युद्धों को अहिंसा से जीता जा सकता है और सभी चीजों में से, यह हमें मूल्यवान बनाता है और आज हमारे पास मौजूद स्वतंत्रता को संजोता है। इस देश के गौरवान्वित नागरिकों के रूप में, यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम अपने देश के विकास और विकास के लिए अपने कर्तव्य और प्रगति को एक साथ ईमानदारी से करें। अपने पूर्वजों के बलिदान को ध्यान में रखते हुए हमें अपनी मातृभूमि के लिए एक बेहतर भविष्य बनाने की शपथ लेनी चाहिए।

जय हिन्द!

जनसंख्या पर निबंध, स्कूल के लिए सबसे अच्छा निबंध यहां क्लिक करें
बेरोजगारी पर निबंध यहां क्लिक करें
प्रदूषण पर निबंध यहां क्लिक करें
हिंदी दिवस कब मनाया जाता है और क्यों? यहां क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.